Latest Love Shayari in Hindi, True Love Status, Best Love shayari

Latest Love Shayari in Hindi, True Love Status, Best Love shayari,love shayri, dil love shayari, love shayari in english, beautiful hindi love shayari, sad love shayari, hindi shayari love sad, love shayari image, love shayari in hindi for boyfriend, sad love shayari in hindi for girlfriend,
Latest Love Shayari in Hindi, True Love Status


Latest Love Shayari in Hindi, True Love Status


हर खामोशी का मतलब इंकार नहीं होता;
हर नाकामयाबी का मतलब हार नहीं होता;
तो क्या हुआ अगर हम तुम्हें न पा सके;
सिर्फ पाने का मतलब प्यार नहीं होता!

har khaamoshi kaa matalab enkaar nahin hotaa; har naakaamyaabi kaa matalab haar nahin hotaa; to kyaa huaa agar ham tumhen n paa sake; sirph paane kaa matalab pyaar nahin hotaa!

जब से तूने मुझे दीवाना बना रखा है;
संग हर शख्स ने हाथों में उठा रखा है;
उसके दिल पर भी कड़ी इश्क में गुजरी होगी;
नाम जिसने भी मोहब्बत का सज़ा रखा है!

jab se tune mujhe divaanaa banaa rakhaa hai; sang har shakhs ne haathon men uthaa rakhaa hai; uske dil par bhi kadi eshk men gujri hogi; naam jisne bhi mohabbat kaa sajaa rakhaa hai!


साथ अगर दोगे तो मुस्कुराएंगे ज़रूर;
प्यार अगर दिल से करोगे तो निभाएंगे ज़रूर;
कितने भी काँटे क्यों ना हों राहों में;
आवाज़ अगर दिल से दोगे तो आएंगे ज़रूर।

saath agar doge to muskuraaange jrur; pyaar agar dil se karoge to nibhaaange jrur; kitne bhi kaante kyon naa hon raahon men; aavaaj agar dil se doge to aaange jrur।

क्यों तू अच्छा लगता है, वक़्त मिला तो सोचेंगे;
तुझ में क्या क्या देखा है, वक़्त मिला तो सोचेंगे;
सारा शहर शहंशाही का दावेदार तो है लेकिन;
क्यों तू हमारा अपना है, वक़्त मिला तो सोचेंगे।

kyon tu achchhaa lagtaa hai, vkt milaa to sochenge;
tujh men kyaa kyaa dekhaa hai, vkt milaa to sochenge;
saaraa shahar shahanshaahi kaa daavedaar to hai lekin;

kyon tu hamaaraa apnaa hai, vkt milaa to sochenge।

प्यार वो है जिसमे सच्चाई हो;
साथी की हर बात का एहसास हो;
उसकी हर अदा पर नाज़ हो;
दूर रह कर भी पास होने का एहसास हो।

pyaar vo hai jisme sachchaai ho; saathi ki har baat kaa ehsaas ho; uski har adaa par naaj ho; dur rah kar bhi paas hone kaa ehsaas ho।

मेरे दिल ने जब भी कभी कोई दुआ माँगी है;
हर दुआ में बस तेरी ही वफ़ा माँगी है;
जिस प्यार को देख कर जलते हैं यह दुनिया वाले;
तेरी मोहब्बत करने की बस वो एक अदा माँगी है।

mere dil ne jab bhi kabhi koi duaa maangi hai; har duaa men bas teri hi vfaa maangi hai; jis pyaar ko dekh kar jalte hain yah duniyaa vaale; teri mohabbat karne ki bas vo ek adaa maangi hai।

ख्याल में आता है जब भी उसका चेहरा;
तो लबों पे अक्सर फरियाद आती है;
भूल जाता हूँ सारे ग़म और सितम उसके;
जब ही उसकी थोड़ी सी मोहब्बत याद आती है।

khyaal men aataa hai jab bhi uskaa chehraa; to labon pe aksar phariyaad aati hai; bhul jaataa hun saare gm aur sitam uske; jab hi uski thodi si mohabbat yaad aati hai।

कभी दोस्ती कहेंगे कभी बेरुख़ी कहेंगे;
जो मिलेगा कोई तुझसा उसे ज़िन्दगी कहेंगे;
तेरा देखना है जादू तेरी गुफ़्तगू है खुशबू;
जो तेरी तरह चमके उसे रोशनी कहेंगे।

kabhi dosti kahenge kabhi berukhi kahenge; jo milegaa koi tujhsaa use jindgi kahenge; teraa dekhnaa hai jaadu teri guphtgu hai khushbu; jo teri tarah chamke use roshni kahenge।

ये दिल भुलाता नहीं है मोहब्बतें उसकी;
पड़ी हुई थी मुझे कितनी आदतें उसकी;
ये मेरा सारा सफर उसकी खुशबू में कटा;
मुझे तो राह दिखाती थी चाहतें उसकी।

ye dil bhulaataa nahin hai mohabbten uski;
pdi hui thi mujhe kitni aadten uski;
ye meraa saaraa saphar uski khushbu men kataa;

mujhe to raah dikhaati thi chaahten uski।

दिल की हसरत मेरी ज़ुबान पे आने लगी;
तुमने देखा और ये ज़िन्दगी मुस्कुराने लगी;
ये इश्क़ के इन्तहा थी या दीवानगी मेरी;
हर सूरत में मुझे सूरत तेरी नज़र आने लगी।

dil ki hasarat meri jubaan pe aane lagi; tumne dekhaa aur ye jindgi muskuraane lagi; ye eshk ke enthaa thi yaa divaangi meri; har surat men mujhe surat teri njar aane lagi।

ऐ आशिक तू सोच तेरा क्या होगा;
क्योंकि हशर की परवाह मैं नहीं करता;
फनाह होना तो रिवायत है तेरी;
इश्क़ नाम है मेरा मैं नहीं मरता।

ai aashik tu soch teraa kyaa hogaa; kyonki hashar ki parvaah main nahin kartaa; phanaah honaa to rivaayat hai teri; eshk naam hai meraa main nahin martaa।

रात होगी तो चाँद दुहाई देगा;
ख्वाबों में आपको वह चेहरा दिखाई देगा;
ये मोहब्बत है ज़रा सोच कर करना;
एक आंसू भी गिरा तो सुनाई देगा।

raat hogi to chaand duhaai degaa; khvaabon men aapko vah chehraa dikhaai degaa; ye mohabbat hai jraa soch kar karnaa; ek aansu bhi giraa to sunaai degaa।

इत्तेफ़ाक़ से ही सही मगर मुलाकात हो गयी;
ढूंढ रहे थे हम जिन्हें आखिर उन से बात हो गयी;
देखते ही उन को जाने कहाँ खो गए हम;
बस यूँ समझो दोस्तो वहीं से हमारे प्यार की शुरुआत हो गयी।

ettefaak se hi sahi magar mulaakaat ho gayi; dhundh rahe the ham jinhen aakhir un se baat ho gayi; dekhte hi un ko jaane kahaan kho gaye ham; bas yun samjho dosto vahin se hamaare pyaar ki shuruaat ho gayi।


तेरे बिना टूट कर बिखर जायेंगे;
तुम मिल गए तो गुलशन की तरह खिल जायेंगे;
तुम ना मिले तो जीते जी ही मर जायेंगे;
तुम्हें जो पा लिया तो मर कर भी जी जायेंगे।

tere binaa tut kar bikhar jaayenge;
tum mil gaye to gulashan ki tarah khil jaayenge;
tum naa mile to jite ji hi mar jaayenge;
tumhen jo paa liyaa to mar kar bhi ji jaayenge।

जाने कहाँ थे और और चले थे कहाँ से हम;
बेदार हो गए किसी ख्वाब-ए-गिराँ से हम;
ऐ नौ-बहार-ए-नाज़ तेरी निकहतों की खैर;
दामन झटक के निकले तेरे गुलसिताँ से हम।

jaane kahaan the aur aur chale the kahaan se ham; bedaar ho gaye kisi khvaab-aye-giraan se ham; ai nau-bahaar-aye-naaj teri nikahton ki khair; daaman jhatak ke nikle tere gulasitaan se ham।

तुम को तो जान से प्यारा बना लिया;
दिल को सुकून आँख का तारा का बना लिया;
अब तुम साथ दो या ना दो तुम्हारी मर्ज़ी;
हम ने तो तुम्हें ज़िन्दगी का सहारा बना लिया।

tum ko to jaan se pyaaraa banaa liyaa; dil ko sukun aankh kaa taaraa kaa banaa liyaa; ab tum saath do yaa naa do tumhaari marji; ham ne to tumhen jindgi kaa sahaaraa banaa liyaa।

लफ़्ज़ों में कैसे तारीफ करूँ,
लफ़्ज़ों में आप कैसे समा पाओगे;
जब भी पूछेंगे कभी लोग आपके बारे में,
हमारी आँखों में देख कर वो सब जान जायेंगे।

lfjon men kaise taariph karun,
lfjon men aap kaise samaa paaoge;
jab bhi puchhenge kabhi log aapke baare men,
hamaari aankhon men dekh kar vo sab jaan jaayenge।

हम वो फूल हैं जो रोज़ रोज़ नहीं खिलते;
यह वो होंठ हैं जो कभी नहीं सिलते;
हम से बिछड़ोगे तो एहसास होगा तुम्हें;
हम वो दोस्त हैं जो रोज़ रोज़ नहीं मिलते।

ham vo phul hain jo roj roj nahin khilte;
yah vo honth hain jo kabhi nahin silte;
ham se bichhdoge to ehsaas hogaa tumhen;
ham vo dost hain jo roj roj nahin milte।

खुशबू की तरह मेरी हर साँस में;
प्यार अपना बसाने का वादा करो;
रंग जितने तुम्हारी मोहब्बत के हैं;
मेरे दिल में सजाने का वादा करो।

khushbu ki tarah meri har saans men; pyaar apnaa basaane kaa vaadaa karo; rang jitne tumhaari mohabbat ke hain; mere dil men sajaane kaa vaadaa karo।

तन्हाइयों में मुस्कुराना इश्क़ है;
एक बात को सब से छुपाना इश्क़ है;
यूँ तो नींद नहीं आती हमें रात भर;
मगर सोते-सोते जागना और जागते-जागते सोना ही इश्क़ है।

tanhaaeyon men muskuraanaa eshk hai; ek baat ko sab se chhupaanaa eshk hai; yun to nind nahin aati hamen raat bhar; magar sote-sote jaagnaa aur jaagte-jaagte sonaa hi eshk hai।


कच्ची दीवार हूँ ठोकर ना लगाना मुझे;
अपनी नज़रों में बसा कर ना गिराना मुझे;
तुम को आँखों में तसावुर की तरह रखता हूँ;
दिल में धड़कन की तरह तुम भी बसाना मुझे।

kachchi divaar hun thokar naa lagaanaa mujhe;l apni njron men basaa kar naa giraanaa mujhe; tum ko aankhon men tasaavur ki tarah rakhtaa hun; dil men dhdakan ki tarah tum bhi basaanaa mujhe।

धोखा ना देना कि तुझपे ऐतबार बहुत है;
ये दिल तेरी चाहत का तलबगार बहुत है;
तेरी सूरत ना दिखे तो दिखाई कुछ नही देता;
हम क्या करें कि तुझसे हमें प्यार बहुत है।

dhokhaa naa denaa ki tujhpe aitbaar bahut hai; ye dil teri chaahat kaa talabgaar bahut hai; teri surat naa dikhe to dikhaai kuchh nahi detaa; ham kyaa karen ki tujhse hamen pyaar bahut hai।

Post a comment

0 Comments