Love shayari in Hindi English | Love shayari | प्यार शायरी


क्या मांगू खुदा से तुम्हें पाने के बाद;
किसका करूँ इंतज़ार तेरे आने के बाद;
क्यों इश्क़ में जान लुटा देते हैं लोग;
मैंने भी यह जाना तुमसे इश्क़ करने के बाद।

kyaa maangu khudaa se tumhen paane ke baad; kiskaa karun entjaar tere aane ke baad; kyon eshk men jaan lutaa dete hain log; mainne bhi yah jaanaa tumse eshk karne ke baad।


दुःख में ख़ुशी की वजह बनी है मोहब्बत;
दर्द में यादों की वजह बनी है मोहब्बत;
जब कुछ भी ना रहा था अच्छा इस दुनिया में;
तब हमारे जीने की वजह बनी है यह मोहब्बत

duahkh men khushi ki vajah bani hai mohabbat; dard men yaadon ki vajah bani hai mohabbat; jab kuchh bhi naa rahaa thaa achchhaa es duniyaa men; tab hamaare jine ki vajah bani hai yah mohabbat।


मेरी साँसों में बिखर जाओ तो अच्छा होगा;
बन के रूह मेरे जिस्म में उतर जाओ तो अच्छा होगा;
किसी रात तेरी गोद में सिर रख के सो जाऊं;
फिर उस रात की कभी सुबह ना हो तो अच्छा होगा।


meri saanson men bikhar jaao to achchhaa hogaa;
ban ke ruh mere jism men utar jaao to achchhaa hogaa;
kisi raat teri god men sir rakh ke so jaaun;

phir us raat ki kabhi subah naa ho to achchhaa hogaa।


जब कोई ख्याल दिल से टकराता है;
दिल ना चाह कर भी, खामोश रह जाता है;
कोई सब कुछ कहकर, प्यार जताता है;
कोई कुछ ना कहकर भी, सब बोल जाता है।


jab koi khyaal dil se takraataa hai; dil naa chaah kar bhi, khaamosh rah jaataa hai; koi sab kuchh kahakar, pyaar jataataa hai; koi kuchh naa kahakar bhi, sab bol jaataa hai।



माना कि किस्मत पे मेरा कोई ज़ोर नही;
पर ये सच है कि मोहब्बत मेरी कमज़ोर नही;
उस के दिल मे, उसकी यादो मे कोई और है लेकिन;
मेरी हर साँस में उसके सिवा कोई और नही।.

maanaa ki kismat pe meraa koi jor nahi; par ye sach hai ki mohabbat meri kamjor nahi; us ke dil me, uski yaado me koi aur hai lekin; meri har saans men uske sivaa koi aur nahi।.


करिये तो कोशिश हमको याद करने की;
फुर्सत के लम्हे तो अपने आप मिल जायेंगे;
दिल में अगर है चाहत हमसे मिलने की;
बहाने मिलने के खुद-ब-खुद बन जायेंगे।

kariye to koshish hamko yaad karne ki; phursat ke lamhe to apne aap mil jaayenge; dil men agar hai chaahat hamse milne ki; bahaane milne ke khud-b-khud ban jaayenge।


रात होगी तो चाँद दुहाई देगा;
ख्वाबों में आपको वह चेहरा दिखाई देगा;
ये मोहब्बत है ज़रा सोच कर करना;
एक आंसू भी गिरा तो सुनाई देगा।


raat hogi to chaand duhaai degaa;
khvaabon men aapko vah chehraa dikhaai degaa;
ye mohabbat hai jraa soch kar karnaa;

ek aansu bhi giraa to sunaai degaa।

ऐ आशिक तू सोच तेरा क्या होगा;
क्योंकि हशर की परवाह मैं नहीं करता;
फनाह होना तो रिवायत है तेरी;
इश्क़ नाम है मेरा मैं नहीं मरता।


ai aashik tu soch teraa kyaa hogaa;
kyonki hashar ki parvaah main nahin kartaa;
phanaah honaa to rivaayat hai teri;

eshk naam hai meraa main nahin martaa।

जो रहते हैं दिल में वो जुदा नहीं होते;
कुछ एहसास लफ़्ज़ों से बयां नहीं होते;
एक हसरत है कि उनको मनाये कभी;
एक वो हैं कि कभी खफा नहीं होते।.

jo rahte hain dil men vo judaa nahin hote; kuchh ehsaas lfjon se bayaan nahin hote; ek hasarat hai ki unko manaaye kabhi; ek vo hain ki kabhi khaphaa nahin hote।.


तू ही मिल जाये मुझे ये ही काफ़ी है;
मेरी हर साँस ने बस यही दुआ माँगी है;
जाने क्यों दिल खींचा जाता है तेरी तरफ़;
क्या तुमने भी मुझे पाने की कोई दुआ माँगी है।

tu hi mil jaaye mujhe ye hi kaafi hai; meri har saans ne bas yahi duaa maangi hai; jaane kyon dil khinchaa jaataa hai teri tarf; kyaa tumne bhi mujhe paane ki koi duaa maangi hai।


Post a comment

0 Comments