Love shayari wallpaper download free

Love  shayari wallpaper download free,love shayari,romantic shayari,love hindi shayari hd photos download free,love shayari images,love shayari in hindi,love shayari wallpaper,urdu shayari love images,sad shayari,shayari image,shayari,hindi shayari,good night wallpaper download,kiss day images download free,morning shayari download,good morning shayari wallpaper,sad shayari wallpapers,shayari photo,shayari whatsapp status,love wallpaper images
Love  shayari wallpaper download free



करते हैं हम तुमसे मोहब्बत;
हमारी खता यह माफ़ करना;
है अगर बदनाम मोहब्बत हमारी;
तुम प्यार को बदनाम मत करना।

karte hain ham tumse mohabbat; hamaari khataa yah maaf karnaa; hai agar badnaam mohabbat hamaari; tum pyaar ko badnaam mat karnaa।


तू महक बन कर मुझ से गुलाबों में मिला कर;
जिसे छू कर मैं महसूस कर सकूँ;
तू मस्ती की तरह मुझ से शराबों में मिला कर;
मैं भी इंसान हूँ, डर मुझ को भी है बहक जाने का;
इस वास्ते तू मुझ से हिजाबों में मिला कर।

tu mahak ban kar mujh se gulaabon men milaa kar; jise chhu kar main mahsus kar sakun; tu masti ki tarah mujh se sharaabon men milaa kar; main bhi ensaan hun, dar mujh ko bhi hai bahak jaane kaa; es vaaste tu mujh se hijaabon men milaa kar।


आँखों की गहराई को समझ नहीं सकते;
होंठों से हम कुछ कह नहीं सकते;
कैसे बयाँ करें हम यह हाल-ए-दिल आपको;
कि तुम्हीं हो जिसके बगैर हम रह नहीं सकते।


aankhon ki gahraai ko samajh nahin sakte;
honthon se ham kuchh kah nahin sakte;
kaise bayaan karen ham yah haal-aye-dil aapko;

ki tumhin ho jiske bagair ham rah nahin sakte।

न आज लुत्फ़ कर इतना कि कल गुज़र न सके;
वह रात जो कि तेरे गेसुओं की रात नहीं;
यह आरजू भी बड़ी चीज़ है मगर हमदम;
विसाले यार फकत आरजू की बात नहीं।

n aaj lutph kar etnaa ki kal gujar n sake; vah raat jo ki tere gesuon ki raat nahin; yah aarju bhi badi chij hai magar hamadam; visaale yaar phakat aarju ki baat nahin।



आपसे दूर भला हम कैसे रह पाते;
दिल से आपको कैसे भुला पाते;
काश कि आप इस दिल के अलावा आईने में भी रहते;
देखते जब आइना खुद को देखने को तो वहाँ भी आप ही नज़र आते।


aapse dur bhalaa ham kaise rah paate;
dil se aapko kaise bhulaa paate;
kaash ki aap es dil ke alaavaa aaine men bhi rahte;

dekhte jab aaenaa khud ko dekhne ko to vahaan bhi aap hi njar aate।

चाहतों ने किया मुझ पे ऐसा असर;
जहाँ देखूं मैं देखूं तुझे हमसफ़र;
मेरी खामोशियाँ भी जुबान बन गयी;
मेरी बेचैनियां इश्क़ की दास्तान बन गयी।

chaahton ne kiyaa mujh pe aisaa asar; jahaan dekhun main dekhun tujhe hamasfar meri khaamoshiyaan bhi jubaan ban gayi; meri bechainiyaan eshk ki daastaan ban gayi।


आप को देख कर यह निगाह रुक जाएगी;
ख़ामोशी अब हर बात कह जाएगी;
पढ़ लो अब इन आँखों में अपनी मोहब्बत;
कसम से सारी कायनात इसे सुनने को थम जाएगी।

aap ko dekh kar yah nigaah ruk jaaagi; khaamoshi ab har baat kah jaaagi; pdh lo ab en aankhon men apni mohabbat; kasam se saari kaaynaat ese sunne ko tham jaaagi।


ना मैं ख्याल में तेरे ना मैं गुमान में हूँ;
यकीन दिल को नहीं है कि इस जहान में हूँ;
खुदाया रखियेगा दुनिया में सरफ़राज़ मुझे;
मैं पहले इश्क़ के, पहले इम्तिहान में हूँ।

naa main khyaal men tere naa main gumaan men hun; yakin dil ko nahin hai ki es jahaan men hun; khudaayaa rakhiyegaa duniyaa men sarfraaj mujhe; main pahle eshk ke, pahle emtihaan men hun।


रूठी हो अगर ज़िंदगी तो मना लेंगे हम;
मिले जो गम अगर वो भी सह लेंगे हम;
बस आप रहना हमेशा साथ हमारे तो;
निकलते हुए आँसुओं में भी मुस्कुरा लेंगे हम।

ruthi ho agar jindgi to manaa lenge ham; mile jo gam agar vo bhi sah lenge ham; bas aap rahnaa hameshaa saath hamaare to; nikalte hua aansuon men bhi muskuraa lenge ham।


यूँ नज़रों से आपने बात की और दिल चुरा ले गए;
हम तो समझे थे अजनबी आपको;
पर दे कर बस एक मुस्कुराहट अपनी;
आप तो हमें अपना बना गए।


yun njron se aapne baat ki aur dil churaa le gaye;
ham to samjhe the ajanbi aapko;
par de kar bas ek muskuraahat apni;
aap to hamen apnaa banaa gaye।



इश्क़ में हर लम्हा ख़ुशी का एहसास बन जाता है;
दीदार-ए-यार भी खुदा का दीदार बन जाता है;
जब होता है नशा मोहब्बत का;
तो अक्सर आईना भी ख्वाब बन जाता है।

eshk men har lamhaa khushi kaa ehsaas ban jaataa hai; didaar-aye-yaar bhi khudaa kaa didaar ban jaataa hai; jab hotaa hai nashaa mohabbat kaa; to aksar aainaa bhi khvaab ban jaataa hai।


इत्तेफ़ाक़ से यह हादसा हुआ है;
चाहत से मेरा वास्ता हुआ है;
दूर रह कर बड़ा बेताब था दिल;
पास आ कर भी हाल बुरा हुआ है।

ettefaak se yah haadsaa huaa hai; chaahat se meraa vaastaa huaa hai; dur rah kar bdaa betaab thaa dil; paas aa kar bhi haal buraa huaa hai।

मुझे भी अब नींद की तलब नहीं रही;
अब रातों को जागना अच्छा लगता है;
मुझे नहीं मालूम वो मेरी किस्मत में है या नहीं;
मगर उसे खुदा से माँगना अच्छा लगता है

mujhe bhi ab nind ki talab nahin rahi; ab raaton ko jaagnaa achchhaa lagtaa hai; mujhe nahin maalum vo meri kismat men hai yaa nahin; magar use khudaa se maangnaa achchhaa lagtaa hai


कब तक वो मेरा होने से इंकार करेगा;
खुद टूट कर वो एक दिन मुझसे प्यार करेगा;
इश्क़ की आग में उसको इतना जला देंगे;
कि इज़हार वो मुझसे सर-ए-बाजार करेगा।

kab tak vo meraa hone se enkaar karegaa; khud tut kar vo ek din mujhse pyaar karegaa; eshk ki aag men usko etnaa jalaa denge; ki ejhaar vo mujhse sar-aye-baajaar karegaa।


कैसे कहूँ कि अपना बना लो मुझे;
बाहों में अपनी समा लो मुझे;
बिन तुम्हारे एक पल भी कटता नहीं;
आ कर एक बार मुझ से चुरा लो मुझे।

kaise kahun ki apnaa banaa lo mujhe; baahon men apni samaa lo mujhe; bin tumhaare ek pal bhi kattaa nahin; aa kar ek baar mujh se churaa lo mujhe।



दूरियों की ना परवाह कीजिये;
दिल जब भी पुकारे बुला लीजिये;
कहीं दूर नहीं हैं हम आपसे;
बस अपनी पलकों को आँखों से मिला लीजिये।

duriyon ki naa parvaah kijiye; dil jab bhi pukaare bulaa lijiye; kahin dur nahin hain ham aapse; bas apni palkon ko aankhon se milaa lijiye।


सीने में दिल तो हर एक के होता है;
लेकिन हर एक दिल में प्यार नहीं होता;
प्यार करने के लिए तो दिल होता है;
दिल में छुपाने के लिए प्यार नहीं होता।

sine men dil to har ek ke hotaa hai; lekin har ek dil men pyaar nahin hotaa; pyaar karne ke lia to dil hotaa hai; dil men chhupaane ke lia pyaar nahin hotaa।


अपने घर की खिड़की से मैं आसमान को देखूँगा;
जिस पर तेरा नाम लिखा है उस तारे को ढूँढूँगा;
तुम भी हर शब दिया जला कर पलकों की दहलीज़ पर रखना;
मैं भी रोज़ एक ख़्वाब तुम्हारे शहर की जानिब भेजूँगा।

apne ghar ki khidki se main aasmaan ko dekhungaa; jis par teraa naam likhaa hai us taare ko dhundhungaa; tum bhi har shab diyaa jalaa kar palkon ki dahlij par rakhnaa; main bhi roj ek khvaab tumhaare shahar ki jaanib bhejungaa।



इश्क़ फिर वो रंग लाया है कि जी जाने है;
दिल का ये रंग बनाया है कि जी जाने है;
नाज़ उठाने में जफ़ाएं तो उठाई लेकिन;
लुत्फ़ भी ऐसा उठाया है कि जी जाने है।

eshk phir vo rang laayaa hai ki ji jaane hai; dil kaa ye rang banaayaa hai ki ji jaane hai; naaj uthaane men jfaaan to uthaai lekin; lutf bhi aisaa uthaayaa hai ki ji jaane hai।


मैं तेरे प्यार में इतना ग़ुम होने लगा हूँ;
जहाँ भी जाऊं बस तुम्हें ही सामने पाने लगा हूँ;
हालात यह हैं कि हर चेहरे में तू ही तू दिखता है;
ऐ मेरे खुदा अब तो मैं खुद को भी भुलाने लगा हूँ।

main tere pyaar men etnaa gum hone lagaa hun; jahaan bhi jaaun bas tumhen hi saamne paane lagaa hun; haalaat yah hain ki har chehre men tu hi tu dikhtaa hai; ai mere khudaa ab to main khud ko bhi bhulaane lagaa hun।



दिल के लुट जाने का इज़हार ज़रूरी तो नहीं;
यह तमाशा सरे बाजार ज़रूरी तो नहीं;
मुझे था इश्क़ तेरी रूह से और अब भी है;
जिस्म से कोई सरोकार ज़रूरी तो नहीं।


dil ke lut jaane kaa ejhaar jruri to nahin;
yah tamaashaa sare baajaar jruri to nahin;
mujhe thaa eshk teri ruh se aur ab bhi hai;

jism se koi sarokaar jruri to nahin।

दुःख में ख़ुशी की वजह बनती है मोहब्बत;
दर्द में यादों की वजह बनती है मोहब्बत;
जब कुछ भी अच्छा ना लगे हमें दुनिया में;
तब हमारे जीने की वजह बनती है मोहब्बत।

duahkh men khushi ki vajah banti hai mohabbat; dard men yaadon ki vajah banti hai mohabbat; jab kuchh bhi achchhaa naa lage hamen duniyaa men; tab hamaare jine ki vajah banti hai mohabbat।


फूलों की याद आती है काँटों को छूने पर;
रिश्तों की समझ आती है फासलों पे रहने पर;
कुछ जज़्बात ऐसे भी होते हैं जो आँखों से बयां नहीं होते;
वो तो महसूस होते हैं ज़ुबान से कहने पर।

phulon ki yaad aati hai kaanton ko chhune par; rishton ki samajh aati hai phaaslon pe rahne par; kuchh jjbaat aise bhi hote hain jo aankhon se bayaan nahin hote; vo to mahsus hote hain jubaan se kahne par।


तेरे हर ग़म को अपनी रूह में उतार लूँ;
ज़िंदगी अपनी तेरी चाहत में सवार लूँ;
मुलाक़ात हो तुझसे कुछ इस तरह मेरी;
सारी उम्र बस एक मुलाक़ात में गुज़ार लूँ।

tere har gm ko apni ruh men utaar lun; jindgi apni teri chaahat men savaar lun; mulaakaat ho tujhse kuchh es tarah meri saari umr bas ek mulaakaat men gujaar lun।


अब आएं या न आएं इधर पूछते चलो;
क्या चाहती है उनकी नज़र पूछते चलो;
हम से अगर है तर्क-ए-ताल्लुक तो क्या हुआ;
यारो कोई तो उनकी ख़बर पूछते चलो।

ab aaan yaa n aaan edhar puchhte chalo; kyaa chaahti hai unki njar puchhte chalo; ham se agar hai tark-aye-taalluk to kyaa huaa yaaro koi to unki khbar puchhte chalo।


फ़िज़ा में महकती शाम हो तुम;
प्यार में झलकता जाम हो तुम;
सीने में छुपाये फिरते हैं चाहत तुम्हारी;
तभी तो मेरी ज़िंदगी का दूसरा नाम हो तुम।

fijaa men mahakti shaam ho tum; pyaar men jhalaktaa jaam ho tum; sine men chhupaaye phirte hain chaahat tumhaari; tabhi to meri jindgi kaa dusraa naam ho tum।


अगर मैं हद से गुज़र जाऊं तो मुझे माफ़ करना;
तेरे दिल में उतर जाऊं तो मुझे माफ़ करना;
रात में तुझे तेरे दीदार की खातिर;
अगर मैं सब कुछ भूल जाऊं तो मुझे माफ़ करना।


agar main had se gujr jaaun to mujhe maaf karnaa;
tere dil men utar jaaun to mujhe maaf karnaa;
raat men tujhe tere didaar ki khaatir;

agar main sab kuchh bhul jaaun to mujhe maaf karnaa।

माना कि किस्मत पे मेरा कोई ज़ोर नही;
पर ये सच है कि मोहब्बत मेरी कमज़ोर नही;
उसके दिल में, उसकी यादो में कोई और है लेकिन;
मेरी हर साँस में उसके सिवा कोई और नही।

maanaa ki kismat pe meraa koi jor nahi; par ye sach hai ki mohabbat meri kamjor nahi; uske dil men, uski yaado men koi aur hai lekin; meri har saans men uske sivaa koi aur nahi।


ऐसा जगाया आपने कि अब तक ना सो सके;
यूँ रुलाया आपने कि महफ़िल में हम ना रो सके;
ना जाने क्या बात है आप में सनम;
माना है जबसे तुम्हें अपना किसी के ना हम हो सके।


aisaa jagaayaa aapne ki ab tak naa so sake;
yun rulaayaa aapne ki mahfil men ham naa ro sake;
naa jaane kyaa baat hai aap men sanam;

maanaa hai jabse tumhen apnaa kisi ke naa ham ho sake।

लाख बंदिशें लगा दे यह दुनिया हम पर;
मगर दिल पर काबू हम कर नहीं पायेंगे;
वो लम्हा आखिरी होगा हमारी ज़िन्दगी का;
जिस पल हम तुझे इस दिल से भूल जायेंगे।.

laakh bandishen lagaa de yah duniyaa ham par; magar dil par kaabu ham kar nahin paayenge; vo lamhaa aakhiri hogaa hamaari jindgi kaa; jis pal ham tujhe es dil se bhul jaayenge।.


किसी पत्थर में मूर्त है, कोई पत्थर की मूर्त है;
लो हम ने देख ली दुनिया, जो इतनी खूबसूरत है;
ज़माना अपनी न समझे कभी पर मुझे खबर है;
कि तुझे मेरी ज़रूरत है और मुझे तेरी ज़रूरत है।


kisi patthar men murt hai, koi patthar ki murt hai;
lo ham ne dekh li duniyaa, jo etni khubsurat hai;
jmaanaa apni n samjhe kabhi par mujhe khabar hai;

ki tujhe meri jrurat hai aur mujhe teri jrurat hai।

तेरा एहसान हम कभी चुका नहीं सकते;
तू अगर माँगे जान तो इंकार कर नहीं सकते;
माना कि ज़िंदगी लेती है इम्तिहान बहुत;
तू अगर हो हमारे साथ तो हम कभी हार नहीं सकते।

teraa ehsaan ham kabhi chukaa nahin sakte; tu agar maange jaan to enkaar kar nahin sakte; maanaa ki jindgi leti hai emtihaan bahut; tu agar ho hamaare saath to ham kabhi haar nahin sakte।


आँखों में चाहत दिल में कशिश है;
फिर क्यों ना जाने मुलाकात में बंदिश है;
मोहब्बत है हम दोनों को एक-दूसरे से;
फिर भी दिलों में ना जाने यह रंजिश क्यों है।


aankhon men chaahat dil men kashish hai;
phir kyon naa jaane mulaakaat men bandish hai;
mohabbat hai ham donon ko ek-dusre se;

phir bhi dilon men naa jaane yah ranjish kyon hai।


कुछ उलझे हुए सवालों से डरता है दिल;
ना जाने क्यों तन्हाई में बिखरता है दिल;
किसी को पा लेना कोई बड़ी बात तो नहीं;
पर उनको खोने से डरता है यह दिल।

kuchh uljhe hua savaalon se dartaa hai dil; naa jaane kyon tanhaai men bikhartaa hai dil; kisi ko paa lenaa koi bdi baat to nahin; par unko khone se dartaa hai yah dil।

नमस्ते! मेरा रजनीश कुमार है। मै आपको यहां शायरी से सम्बंधित articles लिखता हूँ। यदि आप शायरी से संबंधित कोई articles लिखना चाहते हैं, तो कृपया royrajnish333@gmail.com पर लिख कर ईमेल करे । कृपया अपने ईमेल में अपने पूर्ण नाम के साथ हमें ईमेल करे ।

Post a comment

नमस्ते! मेरा रजनीश कुमार है। मै आपको यहां शायरी से सम्बंधित articles लिखता हूँ। यदि आप शायरी से संबंधित कोई articles लिखना चाहते हैं, तो कृपया royrajnish333@gmail.com पर लिख कर ईमेल करे । कृपया अपने ईमेल में अपने पूर्ण नाम के साथ हमें ईमेल करे ।

Post a Comment (0)

Previous Post Next Post