Sad love shayari in hindi for girlfriend

Sad love shayari in hindi for girlfriend,love shayri, dil love shayari, love shayari in english, beautiful hindi love shayari, sad love shayari, hindi shayari love sad, love shayari image, love shayari in hindi for boyfriend, sad love shayari in hindi for girlfriend, sad shayri in english, sad shayri pic,
Sad love shayari in hindi for girlfriend

उनके दीदार के लिए दिल तड़पता है;
उनके इंतज़ार में दिल तरसता है;
क्या कहें इस कमबख्त दिल को अब;
अपना होकर भी जो किसी और के लिए धड़कता है।

unke didaar ke lia dil tdaptaa hai; unke entjaar men dil tarastaa hai; kyaa kahen es kamabakht dil ko ab; apnaa hokar bhi jo kisi aur ke lia dhdaktaa hai।

दिल की किताब में गुलाब उनका था;
रात की नींद में एक ख्वाब उनका था;
है कितना प्यार हमसे जब यह हमने पूछ लिया;
मर जायेंगे बिन तेरे यह जवाब उनका था।

dil ki kitaab men gulaab unkaa thaa; raat ki nind men ek khvaab unkaa thaa; hai kitnaa pyaar hamse jab yah hamne puchh liyaa; mar jaayenge bin tere yah javaab unkaa thaa।

आँखों के सामने हर पल आपको पाया है;
अपने दिल में सिर्फ आपको ही बसाया है;
आपके बिना हम जियें भी तो कैसे;
भला जान के बिना भी कोई जी पाया है।

aankhon ke saamne har pal aapko paayaa hai; apne dil men sirph aapko hi basaayaa hai; aapke binaa ham jiyen bhi to kaise; bhalaa jaan ke binaa bhi koi ji paayaa hai।

मोहब्बत के लबोँ पर फिर वही तकरार बैठी है;
एक प्‍यारी सी मीठी सी कोई झनकार बैठी है;
तुझसे दूर रहकर के हमारा हाल है ऐसा;
मैँ तेरे बिन यहाँ तू मेरे बिन वहाँ बेकार बैठी है।

mohabbat ke labon par phir vahi takraar baithi hai; ek p‍yaari si mithi si koi jhankaar baithi hai; tujhse dur rahakar ke hamaaraa haal hai aisaa; main tere bin yahaan tu mere bin vahaan bekaar baithi hai।

निकला करो इधर से भी होकर कभी कभी;
आया करो हमारे भी घर पर कभी कभी;
माना कि रूठ जाना यूँ आदत है आप की;
लगते मगर हैं अच्छे आपके ये तेवर कभी कभी।

niklaa karo edhar se bhi hokar kabhi kabhi; aayaa karo hamaare bhi ghar par kabhi kabhi; maanaa ki ruth jaanaa yun aadat hai aap ki; lagte magar hain achchhe aapke ye tevar kabhi kabhi।

बगैर जाने-पहचाने इक़रार ना कीजिये;
मुस्कुरा कर यूँ दिलों को बेक़रार ना कीजिये;
फूल भी दे जाते हैं ज़ख़्म गहरे कभी-कभी;
हर फूल पर यूँ ऐतबार ना कीजिये।

bagair jaane-pahchaane ekraar naa kijiye; muskuraa kar yun dilon ko bekraar naa kijiye; phul bhi de jaate hain jkhm gahre kabhi-kabhi; har phul par yun aitbaar naa kijiye।

आप को भूल जाऊं यह नामुमकिन सी बात है;
आप को न हो यकीन यह और बात है;
जब तक रहेगी साँस तब तक आप रहोगे याद;
टूट जाये यह साँस तो यह और बात है।

aap ko bhul jaaun yah naamumakin si baat hai; aap ko n ho yakin yah aur baat hai; jab tak rahegi saans tab tak aap rahoge yaad; tut jaaye yah saans to yah aur baat hai।


कुछ सोचूं तो तेरा ख्याल आ जाता है;
कुछ बोलूं तो तेरा नाम आ जाता है;
कब तक छुपाऊँ दिल की बात;
उसकी हर अदा पर मुझे प्यार आ जाता है।

kuchh sochun to teraa khyaal aa jaataa hai; kuchh bolun to teraa naam aa jaataa hai; kab tak chhupaaun dil ki baat; uski har adaa par mujhe pyaar aa jaataa hai।

मेरे दिल ने जब भी कभी कोई दुआ माँगी है;
तो हर दुआ में बस तेरी वफ़ा माँगी है;
जिस प्यार को देख कर दुनिया वाले जलते हैं;
तेरी मोहब्बत करने की बस वो एक अदा माँगी है।

mere dil ne jab bhi kabhi koi duaa maangi hai; to har duaa men bas teri vfaa maangi hai; jis pyaar ko dekh kar duniyaa vaale jalte hain; teri mohabbat karne ki bas vo ek adaa maangi hai।

अजीब नशा है होशियार रहना चाहता हूँ;
मैं उस के ख़्वाब में बेदार रहना चाहता हूँ;
ये मौज-ए-ताज़ा मेरी तिश्नगी का वहम सही;
मैं इस सराब में सरशार रहना चाहता हूँ।

ajib nashaa hai hoshiyaar rahnaa chaahtaa hun;
main us ke khvaab men bedaar rahnaa chaahtaa hun;
ye mauj-aye-taajaa meri tishngi kaa vaham sahi;

main es saraab men sarshaar rahnaa chaahtaa hun।

तेरे मिलने की आस न होती;
तो ज़िंदगी आज यूँ उदास न होती;
मिल जाती कभी तस्वीर जो तेरी;
तो हमको आज तेरी तलाश न होती।

tere milne ki aas n hoti; to jindgi aaj yun udaas n hoti; mil jaati kabhi tasvir jo teri; to hamko aaj teri talaash n hoti।

कब उनके लबों से इज़हार होगा;
दिल के किसी कोने में हमारे लिए भी प्यार होगा;
गुज़र रही हैं अब तो यह रातें बस इसी सोच में;
कि शायद उनको भी हमारा इंतज़ार होगा।

kab unke labon se ejhaar hogaa; dil ke kisi kone men hamaare lia bhi pyaar hogaa; gujr rahi hain ab to yah raaten bas esi soch men; ki shaayad unko bhi hamaaraa entjaar hogaa।

लाखों में इंतिख़ाब के क़ाबिल बना दिया;
जिस दिल को तुमने देख लिया दिल बना दिया;
पहले कहाँ ये नाज़ थे, ये इश्वा-ओ-अदा;
दिल को दुआएँ दो तुम्हें क़ातिल बना दिया।

laakhon men entikhaab ke kaabil banaa diyaa; jis dil ko tumne dekh liyaa dil banaa diyaa; pahle kahaan ye naaj the, ye eshvaa-o-adaa; dil ko duaaan do tumhen kaatil banaa diyaa।


जज़्बात मचलते हैं जब तुमसे मिलता हूँ;
अरमान मचलते हैं जब तुमसे मिलता हूँ;
साथ हम दोनों का कोई बर्दाश्त नहीं करता;
जलती है देख कर दुनिया जब मैं तुमसे मिलता हूँ।


jjbaat machalte hain jab tumse miltaa hun;
armaan machalte hain jab tumse miltaa hun;
saath ham donon kaa koi bardaasht nahin kartaa;
jalti hai dekh kar duniyaa jab main tumse miltaa hun।


नमस्ते! मेरा रजनीश कुमार है। मै आपको यहां शायरी से सम्बंधित articles लिखता हूँ। यदि आप शायरी से संबंधित कोई articles लिखना चाहते हैं, तो कृपया royrajnish333@gmail.com पर लिख कर ईमेल करे । कृपया अपने ईमेल में अपने पूर्ण नाम के साथ हमें ईमेल करे ।

Post a comment

नमस्ते! मेरा रजनीश कुमार है। मै आपको यहां शायरी से सम्बंधित articles लिखता हूँ। यदि आप शायरी से संबंधित कोई articles लिखना चाहते हैं, तो कृपया royrajnish333@gmail.com पर लिख कर ईमेल करे । कृपया अपने ईमेल में अपने पूर्ण नाम के साथ हमें ईमेल करे ।

Post a Comment (0)

Previous Post Next Post