Sad Love Shayari In Hindi For Girlfriend | Love sad shayari in hindi for girlfriend

Sad Love Shayari In Hindi For Girlfriend-Boyfriend, Best Love Sms Quotes we share some of the Best  Love sad Shayari in Hindi for girlfriend, Sad Sms on Love in Hindi & English, Heart touching sad Shayari in Hindi for girlfriend, Sad Love Shayari for Girlfriend & Boyfriend.

Sad Love Shayari In Hindi For Girlfriend


Sad Love Shayari In Hindi For Girlfriend

उनके दीदार के लिए दिल तड़पता है;
उनके इंतज़ार में दिल तरसता है;
क्या कहें इस कमबख्त दिल को अब;
अपना होकर भी जो किसी और के लिए धड़कता है।

unke didaar ke lia dil tdaptaa hai;
unke entjaar men dil tarastaa hai;
apnaa hokar bhi jo kisi aur ke lia dhdaktaa hai।
kyaa kahen es kamabakht dil ko ab;



दिल की किताब में गुलाब उनका था;
रात की नींद में एक ख्वाब उनका था;
है कितना प्यार हमसे जब यह हमने पूछ लिया;
मर जायेंगे बिन तेरे यह जवाब उनका था।

dil ki kitaab men gulaab unkaa thaa;
raat ki nind men ek khvaab unkaa thaa;
hai kitnaa pyaar hamse jab yah hamne puchh liyaa;
mar jaayenge bin tere yah javaab unkaa thaa।



आँखों के सामने हर पल आपको पाया है;
अपने दिल में सिर्फ आपको ही बसाया है;
आपके बिना हम जियें भी तो कैसे;
भला जान के बिना भी कोई जी पाया है।

aankhon ke saamne har pal aapko paayaa hai;
apne dil men sirph aapko hi basaayaa hai;
bhalaa jaan ke binaa bhi koi ji paayaa hai।
aapke binaa ham jiyen bhi to kaise;



मोहब्बत के लबोँ पर फिर वही तकरार बैठी है;
एक प्‍यारी सी मीठी सी कोई झनकार बैठी है;
तुझसे दूर रहकर के हमारा हाल है ऐसा;
मैँ तेरे बिन यहाँ तू मेरे बिन वहाँ बेकार बैठी है।

mohabbat ke labon par phir vahi takraar baithi hai;
ek p‍yaari si mithi si koi jhankaar baithi hai;
main tere bin yahaan tu mere bin vahaan bekaar baithi hai।
tujhse dur rahakar ke hamaaraa haal hai aisaa;


निकला करो इधर से भी होकर कभी कभी;
आया करो हमारे भी घर पर कभी कभी;
माना कि रूठ जाना यूँ आदत है आप की;
लगते मगर हैं अच्छे आपके ये तेवर कभी कभी।

niklaa karo edhar se bhi hokar kabhi kabhi;
aayaa karo hamaare bhi ghar par kabhi kabhi;
maanaa ki ruth jaanaa yun aadat hai aap ki;
lagte magar hain achchhe aapke ye tevar kabhi kabhi।



बगैर जाने-पहचाने इक़रार ना कीजिये;
मुस्कुरा कर यूँ दिलों को बेक़रार ना कीजिये;
फूल भी दे जाते हैं ज़ख़्म गहरे कभी-कभी;
हर फूल पर यूँ ऐतबार ना कीजिये।

bagair jaane-pahchaane ekraar naa kijiye;
muskuraa kar yun dilon ko bekraar naa kijiye;
phul bhi de jaate hain jkhm gahre kabhi-kabhi;
har phul par yun aitbaar naa kijiye।



आप को भूल जाऊं यह नामुमकिन सी बात है;
आप को न हो यकीन यह और बात है;
जब तक रहेगी साँस तब तक आप रहोगे याद;
टूट जाये यह साँस तो यह और बात है।

aap ko bhul jaaun yah naamumakin si baat hai;
aap ko n ho yakin yah aur baat hai;
tut jaaye yah saans to yah aur baat hai।
jab tak rahegi saans tab tak aap rahoge yaad;



कुछ सोचूं तो तेरा ख्याल आ जाता है;
कुछ बोलूं तो तेरा नाम आ जाता है;
कब तक छुपाऊँ दिल की बात;
उसकी हर अदा पर मुझे प्यार आ जाता है।

kuchh sochun to teraa khyaal aa jaataa hai;
kuchh bolun to teraa naam aa jaataa hai;
uski har adaa par mujhe pyaar aa jaataa hai।
kab tak chhupaaun dil ki baat;



मेरे दिल ने जब भी कभी कोई दुआ माँगी है;
तो हर दुआ में बस तेरी वफ़ा माँगी है;
जिस प्यार को देख कर दुनिया वाले जलते हैं;
तेरी मोहब्बत करने की बस वो एक अदा माँगी है।

mere dil ne jab bhi kabhi koi duaa maangi hai;
to har duaa men bas teri vfaa maangi hai;
jis pyaar ko dekh kar duniyaa vaale jalte hain;
teri mohabbat karne ki bas vo ek adaa maangi hai।




अजीब नशा है होशियार रहना चाहता हूँ;
मैं उस के ख़्वाब में बेदार रहना चाहता हूँ;
ये मौज-ए-ताज़ा मेरी तिश्नगी का वहम सही;
मैं इस सराब में सरशार रहना चाहता हूँ।

ajib nashaa hai hoshiyaar rahnaa chaahtaa hun;
main us ke khvaab men bedaar rahnaa chaahtaa hun;
ye mauj-aye-taajaa meri tishngi kaa vaham sahi;
main es saraab men sarshaar rahnaa chaahtaa hun।



तेरे मिलने की आस न होती;
तो ज़िंदगी आज यूँ उदास न होती;
मिल जाती कभी तस्वीर जो तेरी;
तो हमको आज तेरी तलाश न होती।

tere milne ki aas n hoti;
to jindgi aaj yun udaas n hoti;
mil jaati kabhi tasvir jo teri;
to hamko aaj teri talaash n hoti।



कब उनके लबों से इज़हार होगा;
दिल के किसी कोने में हमारे लिए भी प्यार होगा;
गुज़र रही हैं अब तो यह रातें बस इसी सोच में;
कि शायद उनको भी हमारा इंतज़ार होगा।

kab unke labon se ejhaar hogaa;
dil ke kisi kone men hamaare lia bhi pyaar hogaa;
gujr rahi hain ab to yah raaten bas esi soch men;
ki shaayad unko bhi hamaaraa entjaar hogaa।



लाखों में इंतिख़ाब के क़ाबिल बना दिया;
जिस दिल को तुमने देख लिया दिल बना दिया;
पहले कहाँ ये नाज़ थे, ये इश्वा-ओ-अदा;
दिल को दुआएँ दो तुम्हें क़ातिल बना दिया।

laakhon men entikhaab ke kaabil banaa diyaa;
jis dil ko tumne dekh liyaa dil banaa diyaa;
dil ko duaaan do tumhen kaatil banaa diyaa।
pahle kahaan ye naaj the, ye eshvaa-o-adaa;


जज़्बात मचलते हैं जब तुमसे मिलता हूँ;
अरमान मचलते हैं जब तुमसे मिलता हूँ;
साथ हम दोनों का कोई बर्दाश्त नहीं करता;
जलती है देख कर दुनिया जब मैं तुमसे मिलता हूँ।

Jjbaat machalte hain jab tumse miltaa hun;
Armaan machalte hain jab tumse miltaa hun;
Saath ham donon kaa koi bardaasht nahin kartaa;
Jalti hai dekh kar duniyaa jab main tumse miltaa hun।
Previous Post Next Post