20+ Hindi Funny Shayari 2020 - हिंदी हास्य शायरी

20+ Hindi Funny Shayari 2020



20+ Hindi Funny Shayari 2020
20+ Hindi Funny Shayari 2020

अर्ज़ किया है:
वो कहती अपने भाइयों से, मेरे आशिक़ को यूँ ना पीटो;
ज़रा गौर फरमाइये:
वो कहती अपने भाइयों से, मेरे आशिक़ को यूँ ना पीटो;
बड़ा ज़िद्दी है ये कमीना, पहले कुत्ते की तरह घसीटो।

arj kiyaa hai:
vo kahti apne bhaaeyon se, mere aashik ko yun naa pito;
jraa gaur pharmaaeye:
vo kahti apne bhaaeyon se, mere aashik ko yun naa pito;
bdaa jiddi hai ye kaminaa, pahle kutte ki tarah ghasito।



Hindi Funny Shayari 2020


मेरे इश्क की बोलिंग ने उसके दिल की विकेट बहुत उम्दा तरीके से गिराई;
तकदीर ऐसी हमारी, अंपायर उसका बाप निकला, जिसने ऊँगली नहीं उठाई!

mere eshk ki boling ne uske dil ki viket bahut umdaa tarike se giraai;
takdir aisi hamaari, ampaayar uskaa baap niklaa, jisne ungli nahin uthaai!



Hindi Funny Shayari 2020 - हिंदी हास्य शायरी 

धन से बेशक गरीब रहो पर दिल से रहना धनवान;
अक्सर झोपडी पे लिखा होता है सुस्वागतम;
और महल वाले लिखते है कुत्ते से सावधान।

dhan se beshak garib raho par dil se rahnaa dhanvaan;
aksar jhopdi pe likhaa hotaa hai susvaagatam;
aur mahal vaale likhte hai kutte se saavdhaan।


तेरे ग़म में तड़प कर मर जायेंगे;
मर गए तो तेरा नाम ले जायेंगे;
रिश्वत देकर तुझे भी बुलायेंगे;
तुम ऊपर आओगे तो साथ बैठकर कुरकुरे खायेंगे।

tere gm men tdap kar mar jaayenge;
mar gaye to teraa naam le jaayenge;
rishvat dekar tujhe bhi bulaayenge;
tum upar aaoge to saath baithakar kurakure khaayenge।

न वफ़ा का ज़िक्र होगा;
न वफ़ा की बात होगी;
अब मोहब्बत जिस से भी होगी;
राखी के बाद होगी।

n vfaa kaa jikr hogaa;
n vfaa ki baat hogi;
ab mohabbat jis se bhi hogi;
raakhi ke baad hogi।

किस किस का नाम लें, अपनी बरबादी मेँ;
बहुत लोग आये थे दुआयेँ देने शादी मेँ!

kis kis kaa naam len, apni barbaadi men;
bahut log aaye the duaayen dene shaadi men!

वो ज़हर देकर मारते तो दुनिया की नज़र में आ जाते;
अंदाजे कत्ल तो देखो मोहब्बत करके हमसे शादी ही कर ली।

vo jahar dekar maarte to duniyaa ki najar men aa jaate;
andaaje katl to dekho mohabbat karke hamse shaadi hi kar li।


वो मंदिर भी जाता है और मस्जिद भी:
परेशान पति का, कोई मज़हब नहीं होता।

vo mandir bhi jaataa hai aur masjid bhi:
pareshaan pati kaa, koi mjahab nahin hotaa।


मोहब्बत का सफर लंबा हुआ​;​
​​तो क्या हुआ, थोड़ा तुम चलो​;
​थोड़ा हम चले, थोड़ा तुम चलो;​
​थोड़ा हम चले, फिर रिक्शा कर लेंगे।

mohabbat kaa saphar lambaa huaa​;​
​​to kyaa huaa, thodaa tum chalo​;
​thodaa ham chale, thodaa tum chalo;​
​thodaa ham chale, phir rikshaa kar lenge।


कितना शरीफ शख्श है;
पत्नी पे फ़िदा है;
उस पे ये कमाल है कि;
अपनी पे फ़िदा है।

kitnaa shariph shakhsh hai;
patni pe fidaa hai;
us pe ye kamaal hai ki;
apni pe fidaa hai।


उम्र की राह में जज्बात बदल जाते है;
वक़्त की आंधी में हालात बदल जाते है;
सोचता हूँ कि काम कर-कर के रिकॉर्ड तोड़ दूँ;
पर ऑफिस आते आते ख़यालात बदल जाते है।

umr ki raah men jajbaat badal jaate hai;
vkt ki aandhi men haalaat badal jaate hai;
sochtaa hun ki kaam kar-kar ke rikard tod dun;
par auphis aate aate khyaalaat badal jaate hai।


चेतावनी
अगर आपको कोई अनजान पार्सल मिले;
तो उसे ना खोलें उसमें मेरी फोटो हो सकती है;
और आपकी ज़रा सी लपरवाही आपको;
मेरा दीवाना बना सकती है।

agar aapko koi anjaan paarsal mile;
to use naa kholen usmen meri photo ho sakti hai;
aur aapki jraa si laparvaahi aapko;
meraa divaanaa banaa sakti hai।

कोई तो बुक ऐसी मिलती जिस पे दिल लुटा देते;
हर सब्जेक्ट ने दिमाग़ खाया किसी एक को निपटा देते;
अब सेलेबस देख कर ये सोचते हैं कि;
एक महीना ओर होता तो दुनिया हिला देते।

koi to buk aisi milti jis pe dil lutaa dete;
har sabjekt ne dimaag khaayaa kisi ek ko niptaa dete;
ab selebas dekh kar ye sochte hain ki;
ek mahinaa or hotaa to duniyaa hilaa dete।

पानी में विस्की मिलाओ तो नशा चढ़ता है;
पानी में रम मिलाओ तो नशा चढ़ता है;
पानी में ब्रेंड़ी मिलाओ तो नशा चढ़ता है;
साला पानी में ही कुछ गड़बड़ है।

paani men viski milaao to nashaa chdhtaa hai;
paani men ram milaao to nashaa chdhtaa hai;
paani men brendi milaao to nashaa chdhtaa hai;
saalaa paani men hi kuchh gadabad hai।

दिल दो किसी एक को;
वो भी किसी नेक को;
जब तक मिल ना जाए कोई;
ट्राई करते रहो हर एक को।

dil do kisi ek ko;
vo bhi kisi nek ko;
jab tak mil naa jaaa koi;
traai karte raho har ek ko।

बहुत खूबसूरत हो तुम;
खुद को दुनिया की बुरी नज़रों से बचाया करो;
सिर्फ आँखों में काजल ही काफी नहीं;
गले में नींबू, मिर्च और चप्पल भी लटकाया करो।

bahut khubsurat ho tum;
khud ko duniyaa ki buri njron se bachaayaa karo;
sirph aankhon men kaajal hi kaaphi nahin;
gale men nimbu, mirch aur chappal bhi latkaayaa karo।


अर्ज किया है,
ए सुनामी जरुरत नहीं तेरी इन;
खौफ़नाक लहरों की;
जिंदगी में खौफ़ लाने के लिए;
तो घरवाली ही काफी है।

arj kiyaa hai,
aye sunaami jarurat nahin teri en;
khaufnaak lahron ki;
jindgi men khauf laane ke lia;
to gharvaali hi kaaphi hai।

Post a comment

0 Comments