Love Shayari | Love Shayari Videos | Love Shayari Status

Love is the most beautiful human emotion. Love always takes on various meaning in different conditions and to different people. Falling in love is not a sin. Everybody loves someone. Without love life is nothing. It does not mean you just love to your partner. Your love may for your mother, your father, your family or for your teacher. If you really love someone and you miss him/her then you have to show your sincerity, honesty and love. You should use the best and unique love quotes for him/her. Quotes are always short and meaningful and that is why people always try to get best and unique quotes. Finding the best and finest love quotes for someone special is not a hard task now. Here you will get the top collection of short love quotes and we make sure you and your dear one will like our collection.

Love Shayari Status |Love Shayari | Love Shayari Videos



दौलत नहीं शोहरत नहीं ना वाहवाही चाहिए
 कैसे हो?
बस ये दो लफ्जों की परवाह चाहिए
❤ छू जाए तो ❤ से शेयर जरूर करें

बहुत अंदर तक तबाही मचा देते है वो अश्क जो बाह नहीं पाते;

हज़ारों लोग, खड़े हैं, मेरे लाखों ऐब गिनवाने के लिए. एक बंदा तो, ऐसा भेज, ऐ खुदा, जो मेरी, सिर्फ ओ सिर्फ एक, अच्छाई को साबित कर दे.

ना भूख लगती हैं, ना प्यास लगती है. एक तुम्हारी याद ही, मेरे साथ चलती है. ना भूख लगती.....

खबाहिशो का अधूरा पन दिल की तन्हाई वन जाता है यह सुनी सुनी सी जिंदगी भी अधूरी सी लगने लगी है काश कोइ मजिलो के रास्ते एक मसीहा वन कर दिखा जाता


ज़माने की, निगाहों में, बड़े बेकार से, है हम, किसी मज़लूम को धोखा, हमे, देना नही आता. ज़माने की, निगाहों में,......








हर दिन अगर सुहाना है, तो उसकी मंज़िल रात क्यों है
जीत में ही गर खुशी है, तो फिर ये हार की बात क्यों है

पैदा हुए हम जीने के वास्ते, फिर मरने की बात क्यों है
जब इत्रेमोहब्बत महकता है, तो नफरत की बात क्यों है

जब दौलत से बनते हैं रिश्ते, तो गरीबी की बात क्यों है
जब शातिरों की है दुनिया, तो शराफत की बात क्यों है

जब अपनों की है ये दुनिया, तो बेगानों की बात क्यों है
दोस्ती की कसम खा कर भी ‘मिश्र’, पीछे से घात क्यों है


मैं भी क्या कमाल करता हूँ
एक शाम लिखता हूँ
कि भुला दिया तुझे
और फिर रात भर तुझे याद करता हूँ


लोग अक्सर पूछते है हमसे क्या गम है तुम्हें जो शायर बन गए हो! हम मुस्कुराकर केहते है "हर ग़मो का मारा ही शायर नहीं होता ज़नाब हमें तो ख़ुदा ने बक्सा है  हुनर स्याही का कलम चलती है और दिल से अल्फ़ाज़ निकलतें है जो बनके हमारे जज़्बात काग़ज़ पर उतरते है"!

Sambhaal Lena
Maa Baap ko Unke
budhaapey main,
Jo bachpan de Tera
Har girl Kadam
Sambhaalte Aaye hain.


बांध कर वह हाथ रब से कर रहा था प्रार्थना|
था नगर का सेठ लेकिन कर रहा था याचना|

है प्रभो जो प्लाट पाया है शहर के बीच में|
आप कर दो बस दया तो हो करोड़ो दाम ना|

खेत गिरवी रख गया था एक ग्राहक सूद में|
ब्याज में ही मै खरीदूं काम ऐसा साधना|

हो परम वैभव सदा ही आपके आशीष से|
हो ज़रा जितनी मिले सब मेरी झोली डालना|

यही गुज़ारिश है दीवाने की ऐ ज़िदगी अगले जन्म में मिलना  फुर्सत से जियूंगा तुझे जी भरके! दी है तूने  खुशियाँ इस जन्म में भी पर अफ़सोस है के  जी ना पाया में तुझे बाहों में भरके!



POPULAR HINDI SHAYARI 


आज मैने इंसानियत को होते तार-2 देखा,
एक मासूम को तड़पते सरे बाजार देखा।

नन्हीं आँखों में सवाल कई भरे थे,
होंठो पर मगर ताले जडे थे।

मायूसियाँ उसकी कलेजे पर घात कर रही थी,
खामोशियाँ उसकी मुझसे बात कर रही थी।
क्यूँ समझते हो 'मै' जन्मा हुँ किसी सड़क पर,
अरे! लाडला था मैं सबका,बेठता था पलक पर।


मुफ़लिसी

दिन वो आज भी  मैं नही  हुँ भुला,
उस दिन पार्क में मैं  झूल रहा था झूला।
किसी अंजान ने प्यार से टॉफी खिलाई,
आओ साथ मेरे मैं पापा का चचेरा भाई।

मंजर अब सभी बदल गए थे,
उस गंदे कमरे मे बच्चे कई खडे थे।
पेट बाँध कर मैं कई दिनों तक था सोया,
हाय! याद मे घर की फूट-2 कर था रोया।

फिर शहर की गली में मुझको छोडा गया,
मासूमियत से मेरी,पैसा बहुत जोडा गया।

कैसे कह दूँ,
आपकी दी भीख का मैं  आभारी नहीं हुँ,
मैं एक माँ से बिछुडा,
जिगर का  टुकडा,  मैं भिखारी  नहीं हुँ।।

              ✏️सनिता ठाकुर🇮🇳

Post a comment

0 Comments